1. Home
  2. Literature

Category: Research

कोविड के साये में भारतीय अर्थव्यस्था का हाल

कोविड के साये में भारतीय अर्थव्यस्था का हाल

पुस्तक का नाम – बिऑन्ड द कोविड शैडो : मैपिंग इंडियाज़ इकॉनमी रिसर्जेंस  लेखक और संपादक – संजय बारू प्रकाशक – रूपा पब्लिकेशन इंडिया  वर्ष : 2021 क़ीमत – 595.00/- दूसरे विश्व युद्ध के बाद…

लापता हैं घरों से बेटियाँ

लापता हैं घरों से बेटियाँ

एजुकेटेड माँ भी चाहती हैं बेटा, नहीं बदल रही है मानसिकता महिला-पुरुष सेक्स रेशिओ तो बढ़िया हुआ लेकिन बच्चों में लिंगानुपात घटा और वो भी महिलाओं में शिक्षा वृधि के बाद भी  माइक्रोबायोलॉजी से एमएससी…

धुएं, चिंगारी और आंच से जूझती महिलाओं की ज़िंदगी

धुएं, चिंगारी और आंच से जूझती महिलाओं की ज़िंदगी

ग्रामीण भारत में खाना पकाने के ईंधन के लिए महिलाओं का संघर्ष मार्सेल रिसर्च एंड डेवलपमेंट प्रा. लि. द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में खाना पकाने के लिए महिलाओं के संघर्ष विषय पर एक वेबिनार का आयोजन…

कोरोना से बड़ी महामारी ‘अफ़वाह’ वैक्सीन से नामर्दी और बांझपन की रयूमर – रिसर्च का काउंटर

कोरोना से बड़ी महामारी ‘अफ़वाह’ वैक्सीन से नामर्दी और बांझपन की रयूमर – रिसर्च का काउंटर

कोरोना संक्रमण के बराबर ही घातक एक और वाइरस है जिसे अफवाह कह सकते हैं। यह अफवाह है। वैक्सीन लेने वाले मर्द बाप नहीं बन सकते हैं और औरतें बांझ हो सकती हैं। जबकि इसका…

किचन में स्वाहा सेहत और अधिकार

किचन में स्वाहा सेहत और अधिकार

गुज़ारिश करने के बाद 20-20 दिन में मिल पाता है खाना बनाने का ईंधन   आज भी सबसे आख़िर में खाती हैं गावं की महिलाएं 0.22 फ़ीसदी ही पक्का जानती हैं कि सबके खाने बाद उन्हें…

सिस्टम सुधरे तो सेहत भी सुधर जाएगी समझिए कमजोरी और हिम्मत दिखाइए सेहत महकमे के इलाज की

सिस्टम सुधरे तो सेहत भी सुधर जाएगी समझिए कमजोरी और हिम्मत दिखाइए सेहत महकमे के इलाज की

(कोरोना महामारी से पहले ही भारत में हेल्थ सेक्टर अव्यवस्थाओं और अनदेखी के रोग में जकड़ा था। कोरोना की पहली लहर को बेअसर जान इसे इग्नोर किया गया जिसका नतीजा दूसरी लहर को प्रलय बना…